कालाबाज़ारी : मनमानी कीमत पर बेच रहे थे नमक, प्रशासन ने वसूला

भारी भरकम जुर्माना

रायगढ़ । छत्तीसगढ़ में नमक की कमी की अफवाह के बाद बाजार में अचानक इसकी कीमतों में कई गुना उछाल देखा गया।  दुकानदार ग्राहकों से नमक के मनमाने दाम वसूल रहे हैं।  इस बात की जानकारी मिलने पर सरकार ने सभी जिला कलेक्टरों को इस पर कठोर कार्यवाई करने को निर्देशित किया हैं। रायगढ़ में प्रशासन ने बाजार का जायजा लिया,इस दौरान अधिकतर दुकानदारों को समझाया गया और ज्यादा दाम पर नमक बेचने पर कड़ी कार्रवाई की हिदायत दी गई. 


जमाखोरी और ज्यादा कीमत पर नमक बेचने को लेकर प्रशासन ने कुछ दुकानों को सील भी किया है।  इसके आलावा अन्य पांच दुकानों से जुर्माना वसूल किया गया है. सबसे अधिक जुर्माना दशरथ लाल अग्रवाल की दुकान से वसूल किया गया है, जो 50 हजार रुपये है। 


रायगढ़ एसडीएम ने बताया कि लगातार मिल रही शिकायतों के बाद कार्रवाई की गई है. प्रदेशभर में इस तरह की अफवाह है कि नमक की कमी होने वाली है, जिसकी वजह से नमक की कालाबाजारी बढ़ गई है।  दुकानदार मनमाने तरीके से ग्राहकों को नमक बेच रहे हैं, जो गलत है. ऐसे में उन दुकानदारों के ऊपर कार्रवाई की जा रही है, जो इस तरह की भ्रामक अफवाहों को हवा दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के समय कुछ रुपए कमाने के उद्देश्य से लोगों को भ्रमित किया जा रहा है. इस कारण कई दुकानदारों से जुर्माना वसूल किया गया है। 


बता दें कि छत्तीसगढ़ में नमक की कमी को लेकर अफवाहों का बाजार गर्म है. सोमवार शाम से ही प्रदेशभर में यह अफवाह आग की तरह फैल गई।  सोशल मीडिया में ये खबर वायरल हुई कि प्रदेश में नमक की कमी हो गई है, जिसके बाद लोगों ने लंबी-लंबी लाइन में लगकर बोरे भरकर नमक की खरीदारी कर ली. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि राज्य में नमक की कमी नहीं है, अफवाह फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी। 

sources

Comments are closed.