जलेश्वर महादेव, कवर्धा

jaleshwar mahadev

jaleshwar mahadev कार्तिक पूर्णिमा पर श्रद्धालुओं ने महादेव धाम डोंगरिया पहुंचकर वहां डुबकी लगाई और महादेव की पूजा-अर्चना कर पुण्य लाभ लिया। पूरे दिन श्रद्धालुओं की आवाजाही बनी रहती है, जिससे यहां मेला सा माहौल रहता है। 

कार्तिक महीने के अंतिम दिन यहां हर साल क्षेत्रीय व दूर-दूर से श्रद्धालु पुण्य स्नान करने आते हैं। इसके बाद जलेश्वर महादेव का जलाभिषेक कर विधि विधान से पूजा-अर्चना करते हैं। युवा यहां पहुंचने के बाद पिकनिक मनाते हैं। 

जलेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी बद्रीनाथ पांडेय का कहना है कि पूरे कार्तिक महीने में पूर्णिमा का दिन सबसे अधिक फलदायक होता है। इस दिन गंगा स्नान के साथ, जलाशय, नदी व अन्य पवित्र कुंडों में स्नान करने की परंपरा रही है। मान्यता के अनुसार इस दिन पवित्र जलकुंडों में स्नान के बाद भगवान शंकर में आंवला अर्पित किया जाता है और आंवला पेड़ की पूजा के बाद आंवला पेड़ के नीचे बैठकर खाने से पुण्य लाभ मिलता है।  

PHOTO GALLERY